ALL देश / विदेश सम्पादकीय लेख /आलेख अध्यात्म मध्यप्रदेश राजधानी - भोपाल खेल / विज्ञानं एवं टेक्नोलॉजी मनोरंजन / व्यापार रोजगार के पल शाषकीया विज्ञापन रोजगार के पल क्लासिफाइड विज्ञापन
*मलेरिया नियंत्रण की अंतर्विभागीय समन्वय बैठक आयोजित*
June 16, 2020 • Mr. Dinesh Sahu • मध्यप्रदेश

 *बैतूल* ( *वीरेंद्र झा* जिला प्रतिनिधि )

प्राप्त जानकारी के अनुसार श्री राकेश सिंह की अध्यक्षता में सोमवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में राष्ट्रीय वेक्टर जनित रोग नियंत्रण कार्यक्रम अंतर्गत मलेरिया निरोधक माह जून एवं कीटनाशी वितरण हेतु अंतर्विभागीय समन्वय बैठक आयोजित की गई। बैठक में स्वास्थ्य विभाग, शिक्षा विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, नगर पालिका के अधिकारी एवं प्रतिनिधि उपस्थित रहे। बैठक में कार्यक्रम की अद्यतन स्थिति एवं आगामी कार्ययोजना के विषय में कलेक्टर द्वारा निर्देश दिये गये। उन्होंने कहा कि जनसामान्य को अधिक से अधिक जागरूक किया जाये एवं मलेरिया, डेेंगू, चिकनगुन्या की जानकारी दी जाये। प्रति सप्ताह प्रत्येक कार्यालय में लार्वा विनष्टीकरण का कार्य किया जाये। पूर्व वर्ष की भांति एन्टी डेंगू ड्राइव जो गत वर्ष चलाई गई थी उसको पुन: प्रारंभ करते हुये गतिविधियों को और भी आगे संचालित किया जाये ताकि मलेरिया, डेंगू के नियंत्रण कार्य के प्रभावी परिणाम परिलक्षित हो सके। कलेक्टर ने ग्रामीण क्षेत्रों में आशा कार्यकर्ताओं द्वारा आरडीके (रैपिड डायग्नोस्टिक किट) द्वारा ग्रामीण स्तर पर घर-घर तक की जाने वाली मलेरिया जांच तथा उपचार की विस्तृत जानकारी प्राप्त की एवं उपस्थित विभागों को निर्देशित किया कि मलेरिया निरोधक माह जून एवं कीटनाशी मच्छरदानी वितरण में स्वास्थ्य विभाग का सहयोग करें। बैठक में जानकारी देते हुए सीएमएचओ डॉ. जी.सी. चौरसिया ने बताया कि कोई भी बुखार मलेरिया हो सकता है। कंपकंपी के साथ तेज बुखार, सिर दर्द, उल्टी होना, बेचैनी, कमजोरी, सुस्ती होना मलेरिया हो सकता है। खून की जांच करवायें और मलेरिया पाये जाने पर चिकित्सक की सलाह अनुसार पूर्ण उपचार लें। मच्छरदानी के भीतर सोयें, हर सप्ताह कूलर, टंकी, ड्रम के पानी को खाली करें। खिड़कियों व दरवाजों पर मच्छर जाली का प्रयोग करें। घर के आस-पास पानी जमा न होने दे, जमे पानी पर जला हुआ तेल डाले। जिला मलेरिया अधिकारी ने बताया कि मलेरिया की जांच व उपचार सभी सरकारी अस्पतालों, स्वास्थ्य केन्द्रों एवं ग्राम आरोग्य केन्द्रों में नि:शुल्क उपलब्ध है। बुखार आने पर तुरंत सम्पर्क करें। आप भी समझें औरों को भी समझाए, स्वच्छता रखें एवं मलेरिया मिटायें।