ALL देश / विदेश सम्पादकीय लेख /आलेख अध्यात्म मध्यप्रदेश राजधानी - भोपाल खेल / विज्ञानं एवं टेक्नोलॉजी मनोरंजन / व्यापार रोजगार के पल शाषकीया विज्ञापन रोजगार के पल क्लासिफाइड विज्ञापन
आदिवासी स्वतंत्रता संग्राम सेनानी श्री गंजन सिंग के जयंती पर सम्मान समारोह एवं वक्षारोपण संपन्न सम्मान पन्न
August 8, 2020 • Mr. Dinesh Sahu • मध्यप्रदेश

गत दिवस विलुप्त हो रहे नाम स्वतंत्रता संग्राम सेनानी सरदार श्री गंजन सिंह सिल (कोरक) के जन्मदिवस (जयंती) पर उनके वंशज के निवास स्थल पर सम्मान समारोह कार्यक्रम संपन्न हुआ

बैतूल ( वीरेंद्र झा जिला प्रतिनिधि)

कार्यक्रम का शुभारंभ उनके छायाचित्र के समक्ष छतरपुर ग्राम पंचायत के सरपंच श्री सुंदरलाल कुमरे ने दीप प्रज्वलित एवं पुष्प अर्पित कर किया तत्पश्चात स्वतंत्रता संग्राम सेनानी सरदार श्री गंजन सिंह के सुपुत्र श्री नंदर सिंह एवं उनके वंशज के लोग तथा गणमान्य नागरिकों ने पुष्प अर्पित कर उनको नमन कर याद किया।

सुनील मर्सकोले ( मर्सकोले कंस्ट्रक्शन विक्रमपुर) द्वारा प्रायोजित सम्मान समारोह की कड़ी में मन सर्वप्रथम छतरपुर ग्राम पंचायत सरपंच सुंदरलाल कुमरे जी के द्वारा स्वतंत्रता संग्राम सेनानी सरदार श्री गंजन सिंह के सुपुत्र श्री नंदर सिंह को शाल श्रीफल भेंट कर स्वतंत्रता संग्राम सेनानी सरदार श्री गंजन सिंह को सम्मान किया गया । इस सम्मान समारोह में पधारे अतिथि सर्व श्री वीरेंद्र झा बैतूल जिला प्रतिनिधि खान मजदूर समाचार पत्रए सुनील मर्सकोले ग्रामीण प्रतिनिधि विक्रमपुर खान मज़दूर साप्ताहिक समाचार पत्रए ललित यादव कांग्रेस मंडलम अध्यक्ष सलैयाए लालू दर्सीमा बिजल सिंह सरयाम आदि लोगों ने स्वतंत्रता संग्राम सेनानी सरदार श्री गंजन सिंग के वंशजों का सम्मान किया । 

इसी अवसर पर दिव्यानी सामाजिक संगठन सलैया के द्वारा स्वतंत्रता संग्राम सेनानी सरदार श्री गंजन सिंग के वंशज के निवास स्थान पर एवं ग्राम पंचायत छतरपुर परिसर मैं उनकी याद एवं सम्मान में वृक्षारोपण किया गया है

1 इस अवसर पर एक परिचर्चा भी किया गया जिसमें सुनील कुमार मर्सकोले संचालक मर्सकोले कंस्ट्रक्शन ने कहा कि संग्राम सेनानी सरदार गंजनसिंग सिलु जी ( कोरकू ) इस चमक दमक भरी दुनिया में गर्दिश के सितारें जैसे विलुप्त हो गए उन्हें याद करने वालें कोई नहीए क्या यही हमारे सभ्य समाज का इतिहास हैए जो महान क्रांतिकारी रहें हैए उनका नामों निशां नही है। मुझे इस बात का मलाल हैएक सरदार विष्णसिंह उईके ( गोंड ) के साथ कंधे से कंधा मिलाकर मिलाकर अंग्रेज़ी हुकूमत के खिलाफ अंग्रेजों से लोहा लेने लेने वाले महान विभूतियों की शहादत को हमें नही भूलना चाहिएए इसके लिए हमे इनकी याद में स्मारक और ऐसे कार्यक्रम करना चाहिए जिससे कि आने वाले वाले युवा पीढ़ी उन्हें याद करें

इस अवसर पर वीरेन्द्र झा जिला प्रतिनिधि खान मजदूर साप्ताहिक समाचार पत्र ने कहा कि परसिया सारणी बैतूल मार्ग पर बगडोना से छत्तरपुर मार्ग को सरदार श्री गंजन सिंग मार्ग नाम रखा जाय । श्री सुंदरलाल कुमरे सरपंच ग्राम पंचायत ने कहा कि स्वतंत्रता संग्राम सेनानी श्री गजन सिंग के के याद में ग्राम पंचायत छतरपुर में आने वाले भविष्य में ई लाइब्रेरीए चौपाल आदि जैसे निर्माण कार्य एवं कार्यक्रम हेतु प्रयास करूंगा ।

एक अच्छी जिंदगी ललित यादव मंडल अध्यक्ष सलैया कांग्रेस कि शासन को चाहिए कि स्वतंत्रता संग्राम गंजन सिंह के वंशज जो गरीबी से जूझ मकान में रहने को मजबूर है एक अच्छी जिंदगी के लिए रोजगार एवं आवास जैसी सुविधा दी जानी चाहिए ।

चाहिए । कार्यक्रम के अंत में सम्मान समारोह कार्यक्रम के प्रायोजक मर्सकोले कंस्ट्रक्शन के संचालक श्री सुनील मर्सकोले ने कार्यक्रम के मार्गदर्शन के लिए श्री मिश्रीलाल परते ( उपाध्यक्ष जनपद पंचायत घोड़ाडोंगरी)  एवं वीरेंद्र झा (जिला प्रतिनिधि खान मजदूर साप्ताहिक समाचार पत्र) का आभार व्यक्त किया ।