ALL देश / विदेश सम्पादकीय लेख /आलेख अध्यात्म मध्यप्रदेश राजधानी - भोपाल खेल / विज्ञानं एवं टेक्नोलॉजी मनोरंजन / व्यापार रोजगार के पल शाषकीया विज्ञापन रोजगार के पल क्लासिफाइड विज्ञापन
अपने ही देश के प्रवासी मज़दूरों से श्री राहुल गांधी की मुलाकात नफ़रत फैलाने में माहिर वायरसों को रास नहीं आई,मानों वे आतंकियों से मिले हों,राहुल जी ने तो अपनी दादी-पिता की शहीदी अपनी आंखों से देखी है,आपको तो मजदूरों की बेबसी भी नहीं दिख रही है,शायद?- के के मिश्रा
May 17, 2020 • Mr. Dinesh Sahu • देश / विदेश

अपने ही देश के प्रवासी मज़दूरों से श्री राहुल गांधी की मुलाकात नफ़रत फैलाने में माहिर वायरसों को रास नहीं आई,मानों वे आतंकियों से मिले हों,राहुल जी ने तो अपनी दादी-पिता की शहीदी अपनी आंखों से देखी है,आपको तो मजदूरों की बेबसी भी नहीं दिख रही है,शायद? @RahulGandhi @OfficeOfKNath