ALL देश / विदेश सम्पादकीय लेख /आलेख अध्यात्म मध्यप्रदेश राजधानी - भोपाल खेल / विज्ञानं एवं टेक्नोलॉजी मनोरंजन / व्यापार रोजगार के पल शाषकीया विज्ञापन रोजगार के पल क्लासिफाइड विज्ञापन
असम के तिनसुकिया में गैस के कुएं ऑयल फील्ड में धमाके के बाद भीषण आग.
June 9, 2020 • Mr. Dinesh Sahu • देश / विदेश

( श्रीमती कल्पना बर्मन - आसाम )

असम के तिनसुकिया ज़िले के बाघजान गांव में मौजूद एक ऑयल फील्ड (गैस के कुएं में ) में धमाके के बाद भीषण आग लग गई है. ऑयल इंडिया लिमिटेड के गैस के कुएं में आग लगने की यह घटना मंगलवार दोपहर करीब डेढ़ बजे की है. गांव वालों के अनुसार इस आग में अबतक 20 से अधिक घर जलकर राख हो गए है. गुवाहाटी में मौजूद स्थानीय पत्रकार दिलीप कुमार शर्मा के मुताबिक गैस के कुएं की आग लगातार फैलती जा रही है. इससे आसपास के इलाकों में आतंक का माहौल है. गैस के कुएं में आग इतनी भंयकर तरीके से लगी है कि दो किलो मीटर दूर से इसकी लपटें दिखाई दे रही है. इस घटना के बाद मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान से स्थिति से निपटने पर बात की है. मुख्यमंत्री सोनोवाल ने केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से फोन पर संपर्क कर आग बुझाने के लिए वायुसेना की मदद मांगी है. ऑयल इंडिया लिमिटेड के इस गैस के कुएं में बीते 27 मई से गैस रिसाव हो रही है. ऑयल इंडिया और ओएनजीसी के विशेषज्ञों के नाकाम प्रयासों के बाद गैस लीकेज को रोकने के लिए सिंगापुर की "मेसर्स एलर्ट डिज़ास्टर्स कंट्रोल" के तीन विशेषज्ञ बुलाए गए हैं. इस गैस के कुएं के आसपास बसे बाघजान गांव के छह सौ से अधिक परिवारों को वहां से हटाकर राहत शिविरों में ले जाया गया गैस रिसाव के प्रभाव को रोकने के लिए कई दिनों से वहां पानी का छिड़काव किया जा रहा था. गैस के कुएं वाले इलाके के बिल्कुल पास डिबू सैखोवा नेशनल पार्क है. बाघजान गांव के पास डिबू नदी का पानी गैस रिसाव के कारण पूरी तरह प्रदूषित गया है. असम सरकार का वन विभाग के मुताबिक गैस रिसाव की इस घटना से पर्यावरण को काफी नुकसान पहुंचा है.