ALL देश / विदेश सम्पादकीय लेख /आलेख अध्यात्म मध्यप्रदेश राजधानी - भोपाल खेल / विज्ञानं एवं टेक्नोलॉजी मनोरंजन / व्यापार रोजगार के पल शाषकीया विज्ञापन रोजगार के पल क्लासिफाइड विज्ञापन
बिजली बिलों में मिलेगी रियायत*
June 2, 2020 • Mr. Dinesh Sahu • मध्यप्रदेश

 *बैतूल (वीरेन्द्र झा )* प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा गत दिवस बिजली बिलों में दी गई रियायतों से आमजन ने राहत की सांस ली है। बैतूल के विनोबा वार्ड निवासी उषा बाई बताती है कि लॉकडाउन के कारण सारे कार्य बंद होने से उनके पति मजूदरी पर नहीं जा सके। उन्होंने कुछ जमा राशि से राशन की व्यवस्था कर ली थी, किन्तु बिजली बिल भरने की चिंता उन्हें सता रही थी। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा अपने संदेश में बिजली बिल में रियायत देने की बात कही गई, जिससे अब उन्हें अगले महीनों में केवल 50 रूपए प्रति माह बिजली बिल जमा करना होगा। अब बिजली बिल भरने की उनकी चिंता दूर हो गई। वहीं शांता बाई कहती है कि लॉकडाउन के कारण उनकी आर्थिक स्थिति बिगड़ गई थी, अन्य व्यवस्थाएं तो जैसे-तैसे कर ली थी, किन्तु बिजली बिल की चिंता थी, लेकिन अब रियायत मिलने से उन्हें राहत महसूस हो रही है। आटा चक्की संचालक श्री संतोषराव सोनारे का कहना है कि सरकार द्वारा फिक्स चार्ज की वसूली स्थगित करने एवं उन्हें आगे 6 किश्तों में अदा करने की जो सहूलियत दी गई है, उससे उन्हें राहत मिली है। लॉकडाउन के कारण चक्की बंद रहने से उनकी आर्थिक स्थिति बिगड़ गई थी। उनके लिए बिजली बिल भरना मुश्किल हो गया था, लेकिन अब सरकार द्वारा दी गई रियायत से वे खुश हैं। किराना दुकान संचालक श्री जितेन्द्र सिंह परिहार कहते हैं कि लॉकडाउन में दुकान नहीं खुलने से आर्थिक स्थिति बिगड़ गई। बिजली बिल का भुगतान करना उनके लिए मुश्किल हो गया था, लेकिन सरकार ने अप्रैल और मई माह के बिलों का भुगतान नियत तिथि तक करने पर एक प्रतिशत *अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि देने की सहूलियत दी है, जिससे वे राहत महसूस कर रहे हैं। बिजली के बिलों में दी जाने वाली रियायतें ------------------------- सरकार ने निर्णय लिया है कि अब सभी गैर-घरेलू,गैर-औद्योगिकी , निम्न दाव एवं उच्च दाव औद्योगिक उपभोक्ताओं जैसे - दुकानें, शोरूम, अस्पताल , रेस्टोरेंट, मैरिज गार्डन, पार्लर, एमएसएमई और बड़े उद्योग आदि के माह अप्रैल से जून, 2020 तक के बिजली बिलों के फि़क्स चार्जेस की वसूली स्थगित कर दी गई है। यह राशि अक्टूबर 2020 मार्च 2021 के मध्य 06 समान किश्तों में बिना ब्याज के जमा की जा सकेगी। इससे लगभग 12 लाख छोटे उद्यमियों दुकानदारों छोटे व्यवसायियों की लगभग 700 करोड़ रुपये की राशि आगामी महीनों में ली जाएगी। संबल के हितग्राही तथा ऐसे घरेलू उपभोक्ता जिनके बिजली के बिल अप्रैल में 100 रूपये तक आये थे तथा मई, जून, जुलाई में भी 100 रूपये से कम आयेंगे उन्हें मई, जून, जुलाई की राशि के स्थान पर सिर्फ 50 रूपये महीने का भुगतान करना होगा। इससे लगभग 63 लाख हितग्राहियों को 100 करोड़ रूपये का लाभ होगा। ऐसे घरेलू उपभोक्ता, जिनके बिजली के बिल माह अप्रैल में 100 रूपये से कम आए थे किन्तु मई ,जून और जुलाई माह में 100 रुपये से अधिक परंतु 400 रुपये से कम आए हैं या आएंगे, तो उन्हें मई, जून और जुलाई माह के बिल की राशि के स्थान पर सिर्फ 100 रुपये प्रतिमाह का भुगतान करना होगा। इससे लगभग 28 लाख हितग्राहियों को 150 करोड़ रुपये का लाभ मिलेगा। ऐसे घरेलू उपभोक्ता, जिनके बिजली के बिल माह अप्रैल में 100 रूपये से अधिक परन्तु 400 रूपये से कम आए थे किन्तु मई,जून और जुलाई माह में रूपये 400 से ज्यादा आये हैं या आएंगे, तो उन्हें मई, जून और जुलाई माह के बिल की राशि की आधी राशि का ही भुगतान करना होगा। शेष बिल की राशि की जांच के उपरांत निर्णय लिया जा सकेगा। इससे लगभग 8 लाख हितग्राहियों को बिल की राशि का आधा भुगतान ही करना होगा। हितग्राहियों को लगभग 200 करोड का लाभ होगा। घरेलू उपभोक्ताओं को एप के माध्यम से स्वयं की रीडिंग भेजने की सुविधा प्रदान की गई है। उपभोक्ताओं द्वारा अप्रेल और मई माह के बिलों का भुगतान नियत तिथि तक करने पर उन्हें 1 प्रतिशत अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। यह राशि घरेलू तथा निम्न दाब उपभोक्ताओं के लिए रूपये 10,000/- अधिकतम एवं उच्च दाब उपभोक्ताओं के लिए अधिकतम 01 लाख रूपये होगी। सभी 03 फेस उपभोक्ताओं को लॉकडाउन की अवधि में आवेदन देने के 7 दिन बाद से संविदा मॉंग (कांट्रेक्ट डिमांड) में कमी की सुविधा दी गयी थी। यह सुविधा लॉकडाउन समाप्त होने के 15 दिन बाद तक की अवधि के लिए लागू रहेगी।