ALL देश / विदेश सम्पादकीय लेख /आलेख अध्यात्म मध्यप्रदेश राजधानी - भोपाल खेल / विज्ञानं एवं टेक्नोलॉजी मनोरंजन / व्यापार रोजगार के पल शाषकीया विज्ञापन रोजगार के पल क्लासिफाइड विज्ञापन
देश की सुरक्षा जैसे अति महत्वपूर्ण-संवेदनशील मुद्दे पर देशवासियों को सफ़ेद झूठ परोसना कितना बड़ा अपराध
August 10, 2020 • Mr. Dinesh Sahu

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी,भारत-चीन सीमा विवाद को लेकर 2 जून,2020 को "रक्षामंत्री श्री राजनाथसिंह ने स्वीकारा था कि चीन हमारी सीमा में घुस आया है!"

19 जून,2020 को "आपने बतौर प्रधानमंत्री देश से बड़ी ही मासूमियत से झूठ बोला कि हमारी सीमा में कोई भी घुसपैठ नहीं हुई है!" कल 6 अगस्तए2020ए गुरुवार को तो रक्षा मंत्रालय ने ही पहली बार अपने दस्तावेज में यह स्वीकार कर लिया है कि चीन की सेना 5 मई से भारतीय इलाके में घुसी हैएवहां स्थिति संवेदनशील बानी हुई है!!

प्रधानमंत्री जीएआप 1अरब 30 करोड़ की आबादी वाले एक बड़े राष्ट्र के मुखिया हैं देश की सुरक्षा जैसे अति महत्वपूर्ण-संवेदनशील मुद्दे पर देशवासियों को सफ़ेद झूठ परोसना कितना बड़ा अपराध हैएशायद अब जानते ही होंगे क्या कोई "वास्तविक रामभक्त झूठ भी बोलता हैए क्या अवसरों के अनुरूप विभिन्न वस्त्राम्बर धारण कर देश को अपने छद्म स्वरूप से ठगना/झूठ बोलना "राजधर्म" है।

प्रधानमंत्री जीएयदि इस तरह के घृणित अपराध किसी और मुल्क में किसी प्रधानमंत्री ने किया होता तो वहां जनक्रांति उठ खड़ी होतीएठनका कभी का इस्तीफ़ा हो गया होता!!

भारतीयों के धैर्य अंधभक्ति और उनकी सहिष्णुता को सादर प्रणामएआप सभी यशस्वी हों।

के.के.मिश्रा