ALL देश / विदेश सम्पादकीय लेख /आलेख अध्यात्म मध्यप्रदेश राजधानी - भोपाल खेल / विज्ञानं एवं टेक्नोलॉजी मनोरंजन / व्यापार रोजगार के पल शाषकीया विज्ञापन रोजगार के पल क्लासिफाइड विज्ञापन
डॉ. मुखर्जी पर केन्द्रित प्रशिक्षण वर्ग क- सम पन नरेलविध नसभ- की संगोष्ठी संपन्न
July 3, 2020 • Mr. Dinesh Sahu • मध्यप्रदेश

जनसंघ के संस्थापक डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी जी का यह निश्चय था कि धारा-370 हटाकर एक देश में दो निशान, दो विधान और दो प्रधान नहीं चलेंगे। उन्होंने कहा था कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और मैं वहां बिना परमिट के जाउंगा

भोपाल। जनसंघ के संस्थापक डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी जी का यह निश्चय था कि धारा-370 हटाकर एक देश में दो निशान, दो विधान और दो प्रधान नहीं चलेंगे। उन्होंने कहा था कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और मैं वहां बिना परमिट के जाउंगा।

उन्होंने बिना परमिट के प्रवेश किया और वहीं जेल में संदिग्ध परिस्थितियों में उनका स्वर्गवास हो गया। बलिदान की यह भावना भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं में है और हम देश और समाज के लिए अपनी भूमिका निभाने का कार्य करते है। यह बात शुक्रवार को पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद श्री विष्णुदत्त शर्मा ने डॉ.श्यामाप्रसाद मुखर्जी के बलिदान को लेकर आयोजित नरेला विधानसभा के वर्ग को सम्बोधित करते हुए कही। इस अवसर पर भोपाल जिले के 29 मंडलों के अध्यक्ष, महामंत्री, बूथ अध्यक्ष, जिला पदाधिकारी विशेष रूप से उपस्थित थे। नेतागणों ने प्रदेश कार्यालय में डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी के व्यक्तित्व और कृतित्व पर केंद्रित चित्र प्रदर्शनी का समापन किया। इस अवसर पर श्री सतीश विश्वकर्मा, श्रीमती मालती राय, श्री सूर्यकांत गुप्ता सहित नरेला विधानसभा के मंडल अध्यक्ष उपस्थित थेश्री शर्मा ने कहा कि लोग कहते थे कि धारा 370 को हटाना सिर्फ एक नारा है, लेकिन प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी और गृहमंत्री श्री अमित शाह ने आज डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी के सपने और संकल्प को साकार करके दिखाया। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी आज अगर सबसे बड़ा राजनीतिक दल बनकर उभरा है तो इसका श्रेय जनसंघ के नेता डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी और पं. दीनदयाल उपाध्याय जी जैसे महान विभितियों को जाता हैवर्ग को प्रदेश शासन के मंत्री श्री विश्वास सारंग ने सम्बोधित करते हुए कहा कि डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी ने देश के लिए बलिदान दिया था। हम डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी, पं. दीनदयाल उपाध्याय के विचारों को लेकर चलने वाले दल के कार्यकर्ता है। हमारे लिए सत्ता सेवा का माध्यम है। देश की एकता और अखण्डता के लिए भारतीय जनता पार्टी का कार्यकर्ता अपनी सर्वास्व न्यौछावर करने के लिए तैयार रहता है। वर्ग को सम्बोधित करते हुए जिला अध्यक्ष श्री सुमित पचौरी ने कहा कि देश में भारतीय जनता पार्टी एक मात्र दल है जो शुचिता की राजनीति करती है। कश्मीर से धारा 370 हटने का श्रेय डॉ. मुखर्जी को जाता है। उन्होंने बताया कि भोपाल जिले के सभी 29 मंडलों पर डॉ.श्यामाप्रसाद मुखर्जी के बलिदान को लेकर गोष्ठी के आयोजन सम्पन्न हुए।