ALL देश / विदेश सम्पादकीय लेख /आलेख अध्यात्म मध्यप्रदेश राजधानी - भोपाल खेल / विज्ञानं एवं टेक्नोलॉजी मनोरंजन / व्यापार रोजगार के पल शाषकीया विज्ञापन रोजगार के पल क्लासिफाइड विज्ञापन
लॉकडाउन में छात्रवृत्ति मिलने से विद्यार्थियों में प्रसन्नता
June 16, 2020 • Mr. Dinesh Sahu • मध्यप्रदेश

*बैतूल* ( *वीरेंद्र झा* जिला प्रतिनिधि )

प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में लॉकडाउन के दौरान आदिवासी विकास विभाग द्वारा विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत 6475 विद्यार्थियों को 696.56 लाख रूपए की छात्रवृत्ति प्रदाय की गई, जिससे विद्यार्थियों को अध्ययन में सुविधा रही। वे सरकार के इस कदम से प्रसन्नता महसूस कर रहे हैं। सहायक आयुक्त आदिवासी विकास श्रीमती शिल्पा जैन से प्राप्त जानकारी के अनुसार लॉकडाउन के दौरान अनुसूचित जनजाति पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति योजनांतर्गत एमपी टॉस पोर्टल से पात्र 2963 विद्यार्थियों को 251.37 लाख रूपए, एनआईसी पोर्टल से पात्र 546 विद्यार्थियों को 51.06 लाख, इस प्रकार कुल अनुसूचित जनजाति पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति योजनांतर्गत 3509 पात्र विद्यार्थियों को 302.43 लाख एवं आवास योजनांतर्गत 438 पात्र विद्यार्थियों को 53.26 लाख रूपए छात्रवृत्ति का भुगतान किया गया है। इसी प्रकार अनुसूचित जाति पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति योजनांतर्गत कुल 1714 पात्र विद्यार्थियों को 329.88 लाख एवं अनुसूचति जाति आवास योजनांतर्गत 814 पात्र विद्यार्थियों को 10.99 लाख रूपए छात्रवृत्ति का भुगतान किया गया। शासकीय जेएच कॉलेज में एम.कॉम द्वितीय सेमेस्टर के छात्र श्री देवेन्द्र पिता राजेन्द्र धुर्वे बताते हैं कि लॉकडाउन के दौरान उन्हें 9200 रूपए पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति का लाभ मिला है। वे लॉकडाउन में सरकार द्वारा प्रदाय की गई छात्रवृत्ति से प्रसन्न हैं। इसी तरह जेएच कॉलेज में एमए द्वितीय सेमेस्टर के छात्र श्री सुरेन्द्र पिता श्री महाकुम करोचे ने बताया कि उन्हें लॉकडाउन के दौरान 12620 रूपए पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति का लाभ मिला है, जो सरकार का छात्रहित में सराहनीय कदम है।