ALL देश / विदेश सम्पादकीय लेख /आलेख अध्यात्म मध्यप्रदेश राजधानी - भोपाल खेल / विज्ञानं एवं टेक्नोलॉजी मनोरंजन / व्यापार रोजगार के पल शाषकीया विज्ञापन रोजगार के पल क्लासिफाइड विज्ञापन
मध्यप्रदेश विद्युत मंडल के घनघोर और लापरवाह कर्मचारियों की लापरवाही की वजह से देश के गरीब किसानों को सारी सारी रातों बिजली की आपूर्ति हो रही है
June 16, 2020 • Mr. Dinesh Sahu • सम्पादकीय

 

मध्यप्रदेश विद्युत मंडल के घनघोर और लापरवाह कर्मचारियों की लापरवाही की वजह से देश के गरीब किसानों को सारी सारी रातों बिजली की आपूर्ति हो रही है* *नौकरशाह सर चढ़ गए हैं या कोई बड़ा षड्यंत्र रचा जा रहा है* *ग्रामीण जनता के प्रति आखिर क्या मजबूरी है* *हमारे ईमानदार ऊर्जावान वरिष्ठ अधिकारी लोग फील्ड में क्षेत्र में काम करने वाले को बिजली के फाल्ट ढूंढने में लंबा वक्त अधिक टाइम लग रहा है* *क्या यही मैनेजमेंट है मध्यप्रदेश गवर्नमेंट का जिसके वजह से मध्यप्रदेश विद्युत मंडल को भारी नुकसान पहुंचाने का एक बड़ा षड्यंत्र नजर आता है* *क्या हमें अविलंब जांच नहीं करवाना चाहिए दोषियों के प्रति इमानदारी से चला छुप बेगुनाहों को परेशानी का सामना ना करना पड़े क्योंकि हमारे पास बड़ी संख्या में ईमानदार और जावा सरकारी कर्मचारी कार्य कर रहे हैं* *उन पर संपूर्ण बैतूल जिले को भी नहीं मध्य प्रदेश व देश के 130 करोड़ जनता को गर्व है और रहेगा* *गांव के गरीब किसान वृद्ध महिला जरूरतमंद एवं अन्य लोग बहुत ज्यादा पीड़ित और परेशान व शोषित नजर आ रहे हैं* *हमारे विद्युत विभाग के आला अफसर कुंभकरण की नींद सो रहे हैं* *लीपापोती में लगे हुए हैं हमेशा कोरम पूरा करते नजर आते हैं* *बैतूल जिले के भ्रष्ट एवं मक्कार लोगों की वजह से हमारे नौजवान ईमानदार लगन सेल कर्मचारी की बड़ी बुरी दशा कर रखी है* *इतनी बुरी दशा तो शायद पड़ोसी देश के लोग भी जितना नुकसान नहीं पहुंचाते हैं* *उससे कई ज्यादा हमारे ही लोग हमारे बीच में रहकर अपने ही देश को नुकसान एवं खतरा पहुंचाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे हैं* *इसीलिए बहुत ही जल्द ईमानदारी के साथ जांच होना एक बहुत बड़ी चुनौती का विषय है गलती तो माफ की जाती है मगर देश के साथ इतना बड़ा अपराध अन्याय हर ग्राम पंचायत से लगाकर जिला प्रशासन की बॉडी में भी संध्या वाले लोग बैठे हो तो फिर इस देश का बेड़ा गड़क करने वाले दोषियों के प्रति सरकार में बैठे जिम्मेदार लोग क्यों पर्दे के पीछे से जांच करने के लिए मना किया करते हैं* *विभाग के ही लापरवाही के वजह से संपूर्ण मध्यप्रदेश विद्युत मंडल को आज नीचा देखने में आ रहा है फिर भी कार्यवाही करने में आखिर क्यों डर रहे हैं* *जल्द से जल्द कमेटी बनाकर दोषियों पर कार्रवाई करने के लिए ईमानदारी से जांच की आवश्यकता है बैतूल जिले के चिचोली ब्लॉक ग्राम पंचायत चूना हजूरी में* *बिजली गुल 13 जून 2020 दिन शनिवार समय लगभग शाम 8:00 बजे से दूसरे दिन सुबह लगभग 8:00 बजे के आसपास बिजली घरों में वह खेतों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा ग्रामीण क्षेत्रवासियों को बिजली की आपूर्ति के कारण ग्रामीण क्षेत्र की जनता मध्य प्रदेश सरकार को गलत बतलाती है कर्मचारी लोग बहुत ज्यादा किसानों को गुमराह कर परेशान करने की शिकायत प्राप्त हुई है 14 जून 2020 दिन रविवार को लगभग सुबह 8:00 बजे घरों में एवं खेतों में वह इस क्षेत्र में 12 घंटे तक बिजली ना आने से पूरी रात* *बैतूल जिले के चूना हजूरी ग्राम पंचायत है ब्लॉक चिचोली इसी प्रकार से संपूर्ण मध्यप्रदेश की ग्राम पंचायतों व ग्रामीण क्षेत्रों में आए दिन रातों की बिजलियां गुल कर दिया करते हैं* *बिजली डिपार्टमेंट के मेंटेनेंस कर्मचारी फील्ड पर ज्यादातर किसानों से चौथ वसूली करते हैं मेंटेनेंस के नाम पर इस प्रकार की सूचना प्राप्त हुई है सूत्रों के माध्यम से मेंटेनेंस के नाम पर जीरो नजर आता है जनता परेशान होती है* *जिसकी वजह से ऊर्जा विभाग को पड़ा भारी नुकसान का भी सामना करना पड़ता है* *इसी प्रकार क्षेत्र की जनता परेशान होती है आर्थिक परेशानियां इसलिए उत्पन्न हो रही है* *मध्यप्रदेश विद्युत मंडल में क्योंकि हमारे कुछ चंद लापरवाह कर्मचारियों की वजह से देश तक मजबूर हो चुका है इसलिए हमें जिला प्रशासन बेतूल मध्य प्रदेश को ईमानदारी के साथ जांच कर दोषियों पर सख्त कार्रवाई पारदर्शिता के साथ सार्वजनिक कुछ इस तरह की जाए तो बड़ी संख्या में ईमानदार कर्मचारियों को भी एक बड़ी राहत मिलेगी और परेशानियों से ग्राम वासी ही नहीं संपूर्ण जिले व प्रदेश व देश की जनता प्रसन्न और विकसित देश कहलाएगा चंद मुट्ठी भर बाहुबली जैसे अत्याचारी कर्मचारियों की लापरवाही करते हैं मात्र 5 परसेंट से भी कम होंगे जिसकी वजह से 95 परसेंट लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है* *आखिर मध्य प्रदेश सरकार के 5 परसेंट लोगों पर लगाम नहीं लगा सकती ऐसी क्या मजबूरी है जिला प्रशासन बैतूल की जो कार्रवाई करने में फिसड्डी नजर आती है* *क्यों प्रदेश की किसानों को उग्र आंदोलन करने के लिए पीड़ित और मजबूर कर रहे हैं ऊर्जा विभाग के कर्मचारी लोग इसके पीछे भी कोई बड़ा षड्यंत्र तो नहीं है*