ALL देश / विदेश सम्पादकीय लेख /आलेख अध्यात्म मध्यप्रदेश राजधानी - भोपाल खेल / विज्ञानं एवं टेक्नोलॉजी मनोरंजन / व्यापार रोजगार के पल शाषकीया विज्ञापन रोजगार के पल क्लासिफाइड विज्ञापन
प्रमाण पत्र बनाने को कर्मचारी या दलाल मांगे घूस तो इस नंबर पर दें सूचना*
June 15, 2020 • Mr. Dinesh Sahu • देश / विदेश

 (राकेश शौण्डिक -रांची/झारखंड*)

रांची नगर निगम में यदि आपको किसी काम के लिए परेशान किया जाता हो या दलाल या नगर निगम के कर्मचारी आपसे काम कराने के बदले मोटी रकम की मांग कर रहे हों तो अधिकारियों को सूचित करें। रांची नगर निगम कार्यालय की दीवार पर आपकी सुविधा के लिए नगर आयुक्त, उप नगर आयुक्त-1, उप नगर आयुक्त-2, सहायक नगर आयुक्त व सहायक लोक स्वास्थ्य पदाधिकारी के मोबाइल नंबर से संबंधित पोस्टर लगा दिए गए हैं। *नगर आयुक्त का मोबाइल नंबर* 94311-15814, उप नगर आयुक्त-1 का मोबाइल नंबर 94311-5815, उप नगर आयुक्त-2 का मोबाइल नंबर 94311-94454, सहायक नगर आयुक्त का मोबाइल नंबर 94311-15822 व सहायक लोक स्वास्थ्य पदाधिकारी का मोबाइल नंबर 94311-15817 है। *संबंधित अधिकारियों के मोबाइल नंबर पर वाट्सएप की सुविधा भी उपलब्ध है।* यदि रांची नगर के कर्मचारी या दलाल प्रवृत्ति के लोग आपसे जन्म-मृत्यु प्रमाण बनावाने, वाटर कनेक्शन, होल्डिंग टैक्स, ट्रेड लाइसेंस, शौचालय की टंकी साफ कराने, नगर निगम में ठेका दिलाने या नक्शा पास कराने के लिए मोटी रकम की मांग करता हो, तो संबंधित नगर निगम कर्मी या दलाल प्रवृत्ति के लोगों का वीडियो भी संबंधित अधिकारियों को वाट्सएप के माध्यम से भेज सकते हैं। साक्ष्य मिलने पर संबंधित कर्मी या दलाल प्रवृत्ति के लोगों पर कठोर कार्रवाई की जाएगी। *डिप्टी मेयर की पहल पर लगायी गई शिकायत सुझाव पेटी* रांची नगर निगम के सभी विभागों में पारदर्शिता लाने के लिए डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय की पहल पर नगर निगम कार्यालय के प्रवेश द्वार के समीप एक शिकायत एवं सुझाव पेटी लगायी गई है। उन्होंने बताया कि 2013 में इसी प्रकार की शुरुआत की गई थी, लेकिन अधिकारियों द्वारा शिकायत व सुझाव पर ध्यान नहीं दिए जाने के कारण यह पहल ठंडे बस्ते में चला गया था। बताया कि नगर आयुक्त मनोज कुमार के साथ बैठक कर यह निर्णय लिया गया कि शियात-सुझाव पेटी में प्राप्त पत्रों की समीक्षा प्रत्येक सात दिनों के बाद की जाएगी। शिकायत-सुझाव पेटी में प्राप्त पत्रों को संबंधित विभागों के अधिकारियों के पैास भेजा जाएगा। जल्द ही सभी वार्ड कार्यालयों में भी इसी तर्ज पर शिकायत-सुझाव पेटी लगाई जाएगी।