ALL देश / विदेश सम्पादकीय लेख /आलेख अध्यात्म मध्यप्रदेश राजधानी - भोपाल खेल / विज्ञानं एवं टेक्नोलॉजी मनोरंजन / व्यापार रोजगार के पल शाषकीया विज्ञापन रोजगार के पल क्लासिफाइड विज्ञापन
सभी के बिजली बिल माफ करने को लेकर मुख्यमंत्री को लिखा पत्र मुख्यमंत्री के बयान को बताया जनता को भ्रमित करने वाला- आरिफ मसूद
August 30, 2020 • Mr. Dinesh Sahu • राजधानी - भोपाल

राजधानी भोपाल से जिला संवाददाता गोविंद पटेल की खबर

भोपाल। विधायक आरिफ मसूद ने आज मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान को एक पत्र लिखकर कहा है कि आपके द्वारा जो आंकड़ों का खेल किया गया है 6 अगस्त तक केवल स्थगित किया गया है

इससे बिजली उपभोक्तओं के बिल माफ नहीं किए हैं केवल आपने स्थगित किया है। आपके द्वारा कोरोना वायरस जनहित महामारी में घरेलू उपभोक्ताओं को दी जाने वाली राहत में आपके द्वारा जारी वक्तव्य एवं शासन के पत्र में घोषणां की गई है कि 1 किलोवाट तक के संयोजित भार वाले घरेलू उपभोक्ताओं को आगामी सितम्बर एवं अक्टूबर 2020 में मात्र उनकी वर्तमान मासिक खपत के आधार पर विद्युत देयक जारी किये जाने संबंधि पूर्व बकाया एवं सरचार्ज राशि समावेश न किया जाने के संबंध में आस्थगित बकाया राशि को किया गया है। आरिफ मसूद ने आगे कहा कि 1 किलोवाट के कनेक्शन का बिल अगस्त तक स्थगित करने का मतलब यह है कि 90 प्रतिशत लोगों को इसका लाभ लेने से वंचित किया है क्योंकि सिर्फ एक बत्ती कनेक्शन वाला उपभोक्ता होता है उसके पास 1 किलोवाट कनेक्शन होता है उसके अलावा सारे उपभोक्ता 1 किलोवाट से अधिक के ही होते हैं। विधायक आरिफ मसूद ने अपने पत्र में कहा है कि आपके द्वारा बिल स्थगित किये गए हैं ना कि माफ किये गए हैं इसमें आपके द्वारा केवल शब्दों का खेल खेला गया है 6 अगस्त तक केवल स्थगित कर दिये गए हैं और सितम्बर का ही बिल लिया जाएगा स्थगित का मतलब यह है कि अभी उक्त राशि को उपभोक्ता से वसूला नहीं जाएगा बाद में उपभोक्ता से पूरी राशि वसूली जाएगी। विधायक आरिफ मसूद ने कहा कि जबकि काॅगे्रस सरकार मंे पूर्व मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी ने 100 रूपये पर 100 यूनिट तक बिजली सभी उपभोक्ताओं के लिए किया गया था जिसमें सभी वर्गाें का ध्यान रखा गया था लेकिन आपकी सरकार द्वारा इस योजना को बैठते ही निरस्त कर दिया गया। इस योजना को दोबारा चालू किया जाए जिससे की उपभोक्ताओं को लाभ हो। विधायक आरिफ मसूद ने अपने पत्र में मुख्यमंत्री से माॅग की है कि मार्च माह से अगस्त माह तक के सभी उपभोक्ताओं के बिजली बिल पूरे माफ किये जाएं क्योंकि लाॅकडाउन के समय सभी लोग आर्थिकरूप से परेशान रहे हैं छोटे-छोटे कारोबारी जिनकी दुकानें एवं कारोबार और फेक्ट्रीयां बंद रहीं ऐसे उपभोक्ताओं के सभी बिजली के बिल माफ किये जाएं।